बुधवार, 30 जून 2010

आनर किलिंग-माँ ही निकली बेटी की हत्यारिन

भदोही/उत्तरप्रदेश: जनपद के कोइरौना थाना क्षेत्र में गत २३ जून को १६ वर्षीय किशोरी की हत्या का खुलाशा पुलिस ने मंगलवार को कर दिया किन्तु इस घटना ने लोंगो को चौंका कर रख दिया है. माँ ने अपने परिवार का माँ-सम्मान बचाने के लिए अपनी ही बेटी का गला काट डाला.
 ज्ञातव्य हो की थाना क्षेत्र के निबिहा गाव में २३ जून को ब्रिजलाल यादव उर्फ़ कल्लू यादव की पुत्री रेखा [१६] की गला कट कर हत्या कर दी गयी थी. इस मामले में पुलिस ने अज्ञात लोगो के खिलाफ ३०२ के तहत मुकदमा पंजीकृत कर जाँच कर रही थी. मामले की विवेचना थानाध्यक्ष सुरेश प्रसाद त्रिपाठी व एस ओ जी प्रभारी फरीद अहमद खान कर रहे थे इसी बीच बिल्ली के भाग से छींका टूटा की कहावत चरितार्थ हो गयी और मृतक रेखा की माँ गीता देवी ने खुद ही राज खोल दिए. खुलासे के एक दिन पूर्व रात को उसने अपने बेटे से बताया की उसने खुद ही रेखा का गला काट डाला और गडासा [जिससे हत्या की गयी] छुपा कर रख दिया है. उसने कहा की गुस्से में आकर उसने अपनी बेटी को मार डाला किन्तु अब पुलिस से डर रही है.यह बात उसके बेटे ने अपने पिता को बता दी फिर बात पूरे गाव में फ़ैल गयी और हत्यारिन माँ को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया , पूछताछ के बाद यह कहानी प्रकाश में आयी.
    ब्रिजलाल यादव मुंबई में रहकर टैक्सी चलाकर अपने परिवार का पालन पोषण करता था, घर पर उसकी बेटी और माँ रहती थी, जबकि बेटा पिता के साथ मुंबई में ही रहता था. रेखा जब जवानी की दहलीज पर कदम रखी तो किशोरावस्था की उमंगें उसके मन में भी तरंग पैदा करने लगी और कदम बहकने लगे. इसी बीच उसका अवैध सम्बन्ध पड़ोस के ही चन्द्रबली यादव के पुत्र कैलाश यादव से हो गया. दोनों छुप-छुप कर मिलने लगे. यह जानकारी रेखा की माँ गीता हो गयी, पहले तो उसने समझाने की बहुत कोशिश की लेकिन बात बनती नजर नहीं आयी, घटना की रात दोनों फिर मिले यह बात रेखा की माँ को नागवार गुजरी. माँ बेटी में इसी बात को लेकर तू-तू मै-मै शुरू हो गयी . रेखा ने कहा की या तो वह उसे मार डाले या खुद ही मर जाय लेकिन वह कैलाश से सम्बन्ध नहीं रखेगी. लिहाजा गुस्से में आकर गीता घर में से गडासा लाई और बेटी का गला काट डाला. फिर घर में जाकर सो गयी. फ़िलहाल पुलिस ने गीता को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.
  कहा है घटना के खुलाशे में लोच
खैर  रेखा की हत्या का खुलाशा पुलिस ने कर दिया है. गीता के बयान पर फाईल बंद कर दी गयी है किन्तु यह बाते अभी भी खटकने वाली है. हत्या की घटना के बाद गाव में चर्चा थी की रेखा की माँ के सम्बन्ध किसी से थे जिसे लेकर उसकी हत्या की गयी. रेखा के अवैध सम्बन्ध किसी से थे यह बात गावो में छुपती भी नहीं किन्तु गाव में यह बात किसी को पता नहीं थी, गीता का कहना है की इस बात को लेकर माँ बेटी में झगडा होता रहता था किन्तु यह जानकारी गाव वालो को नहीं थी, जिस दिन हत्या हुयी उस दिन भी झगडा हुआ किन्तु गाव के शांत माहौल में भी यह लडाई किसी को सुनाई नहीं दी. पुलिस अपने दामन को बचाने के लिए भले कहानी बंद कर दी किन्तु रेखा के सिर्फ और सिर्फ गले पर लगी यह चोट साफ दर्शाती है की घटना की रात उसकी माँ से कोई विवाद नहीं हुआ और  हत्या सोने के दौरान की गयी. साफतौर पर सुनियोजित दिखाई देने वाली हत्या की गुत्थी इतनी सरल तो नहीं हो सकती. निश्चय ही इस हत्या में कोई और शख्स शामिल है जो परदे के पीछे है. अभी तक रेखा के प्रेमी कैलाश का पता भी पुलिस नहीं लगा पाई है. भले ही हत्या का खुलाशा हो चुका है किन्तु अभी तक कई सवाल अनसुलझे है..

3 टिप्‍पणियां:

माधव ने कहा…

stop hounor killing

दिनेशराय द्विवेदी Dineshrai Dwivedi ने कहा…

यह मानवध नहीं लगता।

Maria Mcclain ने कहा…

interesting blog, i will visit ur blog very often, hope u go for this website to increase visitor.Happy Blogging!!!